About Me

My photo
Ghaziabad, UP, India
Principal Maharishi Vidya Mandir Obaidullaganj- M.P.

Thursday, December 31, 2015

 हरि ॐ
जय गुरुदेव।
 इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट कॉलेज में सेवा करने के पश्चात मुझे भारत के महान संत महर्षि महेश योगीजी के संस्थान से जुड़ने का अवसर मिला है । मैंने पूज्य महर्षि जी के विषय में सुना जरूर है लेकिन उनके व्यक्तित्व एवं विश्वव्यापी कृतित्व से में अनभिज्ञ था । मुझे  महर्षि जी  द्वारा स्थापित महर्षि विद्या मंदिर में प्राचार्य के रूप में दायित्व मिला है जिसे मैं पूर्ण समर्पण एवं निष्ठा के साथ निर्वहन करने का प्रयास कर रहा हूं। आशा है यह मेरे जीवन के लिए एक महत्वपूर्ण पड़ाव होगा। हो सकता है मंजिल भी यहीं मिल जाये, क्योंकि इस संस्था का कार्य मन के अनुरूप है, दर्शन, धर्म एवं आद्यात्मिक विकास का व्यवहारिक रूप यहाँ दृष्टिगोचर हो रहा है।
महर्षि जी के द्वारा निष्पादित भावातीत ध्यान प्रणाली उनके समस्त दर्शन का आधार है, वैदिक ज्ञान एवं प्राचीन भारतीय ज्ञान सम्पदा को उन्होंने सम्पूर्ण विश्व में वैज्ञानिक दृष्टिकोण से पहुँचाया है जिसे परिष्कृत करने एवं प्रचारित करने के जिम्मेदारी हम सभी को सौंपी गई है।
द बीटल्स, श्री श्री रविशंकर, डॉ दीपक चोपड़ा एवं अनगिनत विश्व प्रसिद्द लोग उनके शिष्यो में हैं। महर्षि जी के लिए अधिक जानकारी हेतु निम्न साइट्स विजिट करें।
http://www.tm.org/enlightenment



No comments:

Post a Comment