About Me

My photo
Ghaziabad, UP, India
Principal Maharishi Vidya Mandir Obaidullaganj- M.P.

Thursday, December 31, 2015

 हरि ॐ
जय गुरुदेव।
 इंजीनियरिंग एवं मैनेजमेंट कॉलेज में सेवा करने के पश्चात मुझे भारत के महान संत महर्षि महेश योगीजी के संस्थान से जुड़ने का अवसर मिला है । मैंने पूज्य महर्षि जी के विषय में सुना जरूर है लेकिन उनके व्यक्तित्व एवं विश्वव्यापी कृतित्व से में अनभिज्ञ था । मुझे  महर्षि जी  द्वारा स्थापित महर्षि विद्या मंदिर में प्राचार्य के रूप में दायित्व मिला है जिसे मैं पूर्ण समर्पण एवं निष्ठा के साथ निर्वहन करने का प्रयास कर रहा हूं। आशा है यह मेरे जीवन के लिए एक महत्वपूर्ण पड़ाव होगा। हो सकता है मंजिल भी यहीं मिल जाये, क्योंकि इस संस्था का कार्य मन के अनुरूप है, दर्शन, धर्म एवं आद्यात्मिक विकास का व्यवहारिक रूप यहाँ दृष्टिगोचर हो रहा है।
महर्षि जी के द्वारा निष्पादित भावातीत ध्यान प्रणाली उनके समस्त दर्शन का आधार है, वैदिक ज्ञान एवं प्राचीन भारतीय ज्ञान सम्पदा को उन्होंने सम्पूर्ण विश्व में वैज्ञानिक दृष्टिकोण से पहुँचाया है जिसे परिष्कृत करने एवं प्रचारित करने के जिम्मेदारी हम सभी को सौंपी गई है।
द बीटल्स, श्री श्री रविशंकर, डॉ दीपक चोपड़ा एवं अनगिनत विश्व प्रसिद्द लोग उनके शिष्यो में हैं। महर्षि जी के लिए अधिक जानकारी हेतु निम्न साइट्स विजिट करें।
http://www.tm.org/enlightenment



Wednesday, July 29, 2015

आज फिर से बहुत दिनो के बाद अपने ब्लोग पर लौटा हुं  बडे ही  दुख के साथ, आज संपूर्ण भारत रो रहा है।
भारत माता  का महान सपूत सो गया,करोडो को जागृत करके उन्हे उर्जा देकर वह महामानव गहरी नींद सो गया ।
डॉ  ए पी जे अब्दुल कलाम साहब
एक महान कर्मयोगी , निष्ठावान ज्ञानयोगी और भारत मां के समर्पित भक्तियोगी
शत शत नमन ऐसी महान आत्मा को।
Former President APJ Abdul Kalam died on July 27. He was admitted to a hospital following sudden illness. Kalam (84) took ill at a function here and was rushed to the hospital, M Kharkrang. The former President collapsed during a lecture at the Indian Institute of Management here at around 6.30pm and was taken to the hospital.
Born and raised in Rameswaram, Tamil Nadu, Kalam studied physics and aerospace engineering. He served as the President of India from 2002 to 2007 and was awarded the nation's top civilian awards, including Padma Vibhushan, Padma Bhushan and Bharat Ratna.
Kalam spent four decades as a scientist and science administrator, at the Defence Research and Development Organisation (DRDO) and Indian Space Research Organisation (ISRO). He was the Chief Scientific Advisor to the Prime and the Secretary of the DRDO from 1992 to 199. The Pokhran II nuclear tests were conducted during this period.
He also wrote 14 books on various topics including India 2020 and Wings of Fire and Ignited Minds.

Wednesday, February 18, 2015


आज बहुत दिनों के बाद कुछ पोस्ट कर रहा हूं
मोदी जी देश के प्रधान सेवक बन गए हैं उनसे बहुत उम्मीदें हे